4000 seats of BTC will increase soon in UP

खुशखबरी: बीटीसी की बढ़ेंगी 4000 सीटें

बीटीसी प्रतीक्षा सूची में रहने वालों को परेशान होने की जरूरत नहीं है।
btc teachers recruitment

प्रदेश में बीटीसी की अभी 4000 सीटें और बढ़ाने की तैयारी है।

राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) शीघ्र ही 80 और निजी कॉलेजों को संबद्धता देने के लिए आवेदन लेने जा रही है।

शासन स्तर पर इस संबंध में सहमति बन गई है। इन कॉलेजों को संबद्धता मिलने के बाद 45,450 सीटें हो जाएंगी।

इसलिए बीटीसी करने वालों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में शिक्षक बनने की योग्यता स्नातक व बीटीसी है।

प्रदेश में मौजूदा समय जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) में 10,450 और 620 निजी कॉलेजों में 31,000 सीटें हैं।

एससीईआरटी राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद से मान्यता मिलने वाली संस्थाओं को बीटीसी कोर्स चलाने के लिए संबद्धता देती है।

इन संस्थाओं ने सुप्रीम कोर्ट में वाद दायर करते हुए यह अनुरोध किया कि जब आवेदन 2013-14 में किया है तो मान्यता भी इसी सत्र के लिए दी जानी चाहिए। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद से करीब 80 संस्थाओं ने मान्यता ली थी। इन्हें वर्ष 2014-15 के लिए मान्यता दी गई।

सुप्रीम कोर्ट ने इनके पक्ष में फैसला दिया। इसके आधार पर राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद ने इन संस्थाओं को शिक्षा सत्र 2013-14 के लिए मान्यता दी है।

इसलिए अब एससीईआरटी को इन संस्थाओं को इसी सत्र के लिए संबद्धता देते हुए दाखिला भी देना होगा।

शासन स्तर पर बैठक में सहमति के बाद एससीईआरटी सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर मान्यता पाने वाले संस्थाओं को संबद्धता देने के लिए विज्ञापन निकाल कर शीघ्र ही आवेदन मांगने की तैयारी में है।

Advertisements

About Auraiya

Auraiya - A City of Greenland.
This entry was posted in Uncategorized. Bookmark the permalink.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s